शनिवार, 28 मार्च 2009

फिर फिर देखें....फिर फिर मज़ा लें !

वरुण गांधी भाजपा के गांधी हैं और राजनीति के भाजपाई स्कूल में कट्टरपंथ की तालीम तो उनको दे ही दी गई है, अब अगला घंटा (कक्षा) है राजनीतिक नौटंकी सीखने की ....सो आज वह भी लग गई है पॉलिटिकल ड्रामे के असाइंमेंट के तौर पर आज वरुण गांधी पीलीभीत में गिरफ्तारी देने जा रहे हैं, दो दिन पहले एक तस्वीर बनाई थी आज उसे पब्लिश कर देते हैं.......

वरुण ये कह रहे हैं कि उन्होंने कुछ ग़लत नहीं कहा.....फिर कह रहे हैं कि उनके ख़िलाफ़ साजिश हुई है, फिर कहते हैं कि वि जेल जाने को तैयार हैं.....क्या ये बयान विरोधाभासी नहीं ?जवाब अपने अन्दर ढूँढिये.....हिंदुत्व का ये चिन्तक इतने दिन कहाँ था ?

1 टिप्पणी:

काल चक्र

हिन्दी फोनेटिक कुंजी पटल

देवनागरी